MOTHERS-DAY

Mothers Day- Cute Child and Mother

what is the meaning of mother - Happy Mothers Day

Happy Mother's Day - Any Woman can be a Mother but it takes someone Special to be called "Mom"

For all the loving things you are and caring things you do, we’re sending this special wish multiplied by two! Have a beautiful day.

थोड़ी थोड़ी धूप निकलती थोड़ी बदली छाई है बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! शॉल सरक कर कांधों से उजले पाँवों तक आया है यादों के आकाश का टुकड़ा फटी दरी पर छाया है पहले उसको फ़ुर्सत कब थी छत के ऊपर आने की उसकी पहली चिंता थी घर को जोड़ बनाने की बहुत दिनों पर धूप का दर्पण देख रही परछाई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! सिकुड़ी सिमटी उस लड़की को दुनिया की काली कथा मिली पापा के हिस्से का कर्ज़ मिला सबके हिस्से की व्यथा मिली बिखरे घर को जोड़ रही थी काल चक्र को मोड़ रही थी लालटेन-सी जलती-बुझती गहन अंधेरे तोड़ रही थी सन्नाटे में गूँज रही वह धीमी-सी शहनाई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! दूर गाँव से आई थी वह दादा कहते बच्ची है चाचा कहते भाभी मेरी फूलों से भी अच्छी है दादी को वह हँसती-गाती अनगढ़-सी गुड़िया लगती थी छोटा मैं था- मुझको तो वह आमों की बगिया लगती थी जीवन की इस कड़ी धूप में अब भी वह अमराई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! नींद नहीं थी लेकिन थोड़े छोटे-छोटे सपने थे हरे किनारे वाली साड़ी गोटे-गोटे सपने थे रात रात भर चिड़िया जगती पत्ता-पत्ता सेती थी कभी-कभी आँचल का कोना आँखों पर धर लेती थी धुंध और कोहरे में डूबी अम्मा एक तराई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! हँसती थी तो घर में घी के दीए जलते थे फूल साथ में दामन उसका थामे चलते थे धीरे धीरे घने बाल वे जाते हुए लगे दोनों आँखों के नीचे दो काले चाँद उगे आज चलन से बाहर जैसे अम्मा आना पाई है! पापा को दरवाज़े तक वह छोड़ लौटती थी आँखों में कुछ काले बादल जोड़ लौटती थी गहराती उन रातों में वह जलती रहती थी पूरे घर में किरन सरीखी चलती रहती थी जीवन में जो नहीं मिला उन सबकी माँ भरपाई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! बड़े भागते तीखे दिन वह धीमी शांत बहा करती थी शायद उसके भीतर दुनिया कोई और रहा करती थी खूब जतन से सींचा उसने फ़सल फ़सल को खेत खेत को उसकी आँखें पढ़ लेती थीं नदी नदी को रेत रेत को अम्मा कोई नाव डूबती बार बार उतराई है! बहुत दिनों पर आज अचानक अम्मा छत पर आई है! - सुधांशु उपाध्याय

Happy Mother's Day - A Man's Work is FRom sun to sun but a Mother's work is never done

Happy Mother's Day - I remember my mother's prayers and they have always followed me. They have clung to me all my life

I was Always at peace Because of the way my MoM treated me

No other present in the world can be more special and beautiful than the gift of a mother. I am so glad to have you. Happy Mother’s Day.

Happy Mothers Day ! - Heart Touching Quotes

A mother is not a person to learn on, but a person to make leaning unnecessary .

तुम्ही मिटाओ मेरी उलझन कैसे कहूँ कि तुम कैसी हो कोई नहीं सृष्टि में तुम-सा माँ तुम बिलकुल माँ जैसी हो। ब्रह्मा तो केवल रचता है तुम तो पालन भी करती हो शिव हरते तो सब हर लेते तुम चुन-चुन पीड़ा हरती हो किसे सामने खड़ा करूँ मैं और कहूँ फिर तुम ऐसी हो। माँ तुम बिलकुल माँ जैसी हो।। ज्ञानी बुद्ध प्रेम बिना सूखे सारे देव भक्ति के भूखे लगते हैं तेरी तुलना में ममता बिन सब रुखे-रुखे पूजा करे सताए कोई सब के लिए एक जैसी हो। माँ तुम बिलकुल माँ जैसी हो।। कितनी गहरी है अदभुत-सी तेरी यह करुणा की गागर जाने क्यों छोटा लगता है तेरे आगे करुणा-सागर जाकी रही भावना जैसी मूरत देखी तिन्ह तैसी हो। माँ तुम बिलकुल माँ जैसै हो।। मेरी लघु आकुलता से ही कितनी व्याकुल हो जाती हो मुझे तृप्त करने के सुख में तुम भूखी ही सो जाती हो। सब जग बदला मैं भी बदला तुम तो वैसी की वैसी हो। माँ तुम बिलकुल माँ जैसी हो।। तुम से तन मन जीवन पाया तुमने ही चलना सिखलाया पर देखो मेरी कृतघ्नता काम तुम्हारे कभी न आया क्यों करती हो क्षमा हमेशा तुम भी तो जाने कैसी हो। माँ तुम बिलकुल माँ जैसी हो।। -शास्त्री नित्यगोपाल कटारे

Mother's Day | No one Else will ever know the strength of my Love for You After All you are the only one who Knows what my Heart sounds like from the inside

Happy Mother’s Day means more than flowers and gifts. It means saying thank you. It means I Love You. You are my mother, my friend. Today is your day.

Word’s are never enough to thank you for all that you do…. Happy Mother’s Day.

Happy Mother's Day - Quotes for my best Friend

चिंतन दर्शन जीवन सर्जन रूह नज़र पर छाई अम्मा सारे घर का शोर शराबा सूनापन तनहाई अम्मा उसने खुद़ को खोकर मुझमें एक नया आकार लिया है, धरती अंबर आग हवा जल जैसी ही सच्चाई अम्मा सारे रिश्ते- जेठ दुपहरी गर्म हवा आतिश अंगारे झरना दरिया झील समंदर भीनी-सी पुरवाई अम्मा घर में झीने रिश्ते मैंने लाखों बार उधड़ते देखे चुपके चुपके कर देती थी जाने कब तुरपाई अम्मा बाबू जी गुज़रे, आपस में- सब चीज़ें तक़सीम हुई तब- मैं घर में सबसे छोटा था मेरे हिस्से आई अम्मा - आलोक श्रीवास्तव

Happy Mother's Day Poem

I never knew how much love my heart could hold until someone called me Mom. | Cute baby image with her mummy | Quote